पांच भाजपाइयों को छ: साल के लिये निष्काषित- पार्टी से बाहर किये गये भाजपाईयों ने लगाए जिलाध्यक्ष लक्ष्मण नायक पर पैसो को लेकर गम्भीर आरोप। और भी बहुत कुछ कहा निष्काषित हुये भाजपाईयो ने।







चुनाव के दौरान भाजपा ने एक लेटर जारी किया जिसमें 5 भाजपाइयो को पार्टी से 6 साल के लिये बाहर का रास्ता दिखा दिया। जिलाध्यक्ष ने लेटर में यह बताया है कि, 5 भाजपाइयो को जो पार्टी से निकला गया है उन्होनें बीते पंचायत चुनाव में घोर अनुशासन हीनता दिखाई थी। साथ ही पार्टी से अधिकृत प्रत्याशी के विरुद्ध चुनाव लड़ कर पार्टी को बहुत ज्यादा क्षति पहुंचाई हैं। 
इसलिये भाजपा जिला कोर कमेटी की सहमती और जिला भाजपा संगठन प्रभारी के निर्देश और जिलाध्यक्ष की अनुशंसा पर कलम सिंग भाबोर, रूपसिंग बरिया, रमसू पारगी, मेघजी अमलियार, राजेश गरवाल को6 साल के लिये भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से निष्काषित किया गया हैं। 
इस निष्कासन पर किसान मोर्चे के जिलाध्यक्ष कलम सिंग ने कहा कि ये कौन होता है जो मुझे पार्टी से निकाल दे। अगर किसान मोर्चे के प्रदेशाध्यक्ष कहेगे तो उसी समय काम बन्द कर दूंगा। पैसे नहीं दिये तो चुनाव नहीं लड़ने दिया। और हम जीत जाते तो पार्टी का साथ ही देते। 
ऐसे ही निष्काषित रमसू पारगी ने बताया कि, जिलाध्यक्ष लक्ष्मण पर्सनली दुश्मनी निकाल रहा है उसको डर है कि, रमसू पारगी के होने से खतरा रहेगा। जहां तक चुनाव की बात है उस क्षेत्र से जिस महिला को पार्टी से अधिकृत किया उसके साथ भी जिलाध्यक्ष की सांठगांठ है पैसो का लेन देन हैं। और ज्यादा से ज्यादा ये जिलाध्यक्ष कितने समय रुकेगा, उसके बाद सब देख लेंगे ये दिखेगा भी नहीं और आने वाले विधानसभा में भी हम खड़े होंगे।

हालांकि, पांच भाजपाई को 6 साल के लिये प्राथमिक सदस्यता से बाहर किया है। जबकि उसी दिन किसान मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष ने जिला किसान मोर्चे के जिलाध्यक्ष को नगरपालिका चुनाव रानापुर का प्रभारी बनाया गया था।

बहरहाल बागी को मानाने के लिये लंबी कमान लगानी पड़ती है, फिर आज तो कैलाश विजयवर्गीय का झाबुआ में रोड़ शो है जो थांदला तक जायेगा। उसके बाद झाबुआ चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिये सीएम का दौरा भी सम्भव सा लगता हैं। मगर भाजपा इस बात का खयाल रखे कि निष्कासित भाजपाई की आंखे लाल है और मुंह में आग हैं।

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ समाचार के साथ

ख़बर पर आपकी राय

Famous Posts

Sports