सहायक आयुक्त प्रशांत आर्य (मौन) का जिले से हुआ स्थानांतरण- गणेश भाबोर होंगे नये सहायक आयुक्त। क्या स्थानांतरण के बाद जाने वाले आधिकारी के कार्यकाल में हुये घोटालों की जांच होगी या फ़ाईल की डोरी बंद ही रहेगी।



भोपाल से जारी हुये आदेश में प्रदेशभर के 22 अधिकारीयों के तबादले किये गये हैं। जिसमें झाबुआ जिले में सहायक आयुक्त प्रशांत आर्य (मौन) का भी नाम है। 
आदेश के अनुसार (मौन) प्रशांत आर्य का स्थानांतरण निवाडी में हुआ है और जिला झाबुआ में गणेश भाबोर सहायक आयुक्त तत्काल प्रभाव से नियुक्त हो चुके है। 


हालांकि, हर अधिकारी जिले में आ कर विभागीय तौर पर बहुत से  कार्य करता है और उन बहुत से कार्यों को कागजों पर पूर्ण भी करता हैं। जिले में जनजातीय विभाग एक ऐसा विभाग है जहां ट्राइबल के लिये बहुत से कार्य और बहुत सा बजट आता है मगर वो बजट आधे से ज्यादा गोलमाल हो जाता हैं। इसलिये सरकार को तबादले के बाद विभाग में किये गये भ्रष्टाचार की जांच भी जरुर करवाना चाहिये।

बहरहाल, बोल कर भी न बोले और चुप रह कर, करवा ले वो वसुली। डी सी के आने के बाद और जाने के बाद जो खेल माया का फिर से खेला गया उसमें होस्टल अधीक्षकों का बहुत बड़ा योगदान रहा हैं। 
खेर आने वाले सहायक आयुक्त गणेश भाबोर को किसी प्रकार से कोई परेशानी इसलिए नहीं आने वाली क्युंकि झाबुआ जिले की कार्य प्रणाली से वो पहले से ही वाकिफ है।

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ समाचार के साथ

ख़बर पर आपकी राय

Famous Posts

Sports