BEO की लापरवाही, उदसीनता, और अनुशासनहीनता की वजह से कारण बताओ नोटिस- 5वी की परीक्षा में 2 लोगों से दिलाई फर्जी तरीके से परीक्षा।






जिले में थांदला विकास खंड के कुकड़ीपाड़ा सन्कूल केंद्र में स्थित प्राथमिक विद्यालय मोवड़ीपाड़ा फलिया तलावड़ में 5वी कक्षा परीक्षा में 2 बच्चों को फर्जी तरीके से परीक्षा दिलाई गयी।  

सहायक आयुक्त, जनजातीय कार्य विभाग झाबुआ द्वारा खण्ड शिक्षा अधिकारी विकास खण्ड थांदला को 07. अप्रेल 2022 द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन अनुसार प्रा.वि.मोवड़ीपाड़ा फलिया तलावड़ा संकूल केन्द्र कुकडीपाडा वि.ख.थांदला में दिनांक 06.अप्रेल .2022 को मा.वि.तलावडा में कक्षा 5वीं एवं 8वीं परीक्षा 2022 निरीक्षण के दौरान पर्यवेक्षक के रूप में कक्षा 5वीं की परीक्षा में 02 विद्यार्थी को फर्जी तरीके से किसी अन्य छात्र के स्थान पर सम्मिलित करवाये जाकर परीक्षा पूरी करवाई गई। 

यह कृत्य म.प्र.सिविल सेवा(आचरण) नियम-1965 के नियम -3 प्रतिकूल होकर, शासकीय कार्य में रूची ना लेना, शासकीय कार्य में लापरवाही व उदासीनता बरतने तथा अनुशासनहीनता का द्योतक है।
इसलिय म.प्र.सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत निलंबित किया जाने हेतु प्रस्ताव वरिष्ठ कार्यालय को भेजा जावें। 
अतः जारी कारण-बताओं सूचना-पत्र का प्रत्युत्तर पत्र प्राप्ति के 03 दिवस के भीतर, अधोहस्ताक्षरकर्ता के समक्ष उपस्थित होकर, प्रतिउत्तर प्रस्तुत करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए अन्यथा आपके विरूद्ध नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

हालांकि ये तो पक्का है ही कि 5वी कक्षा की परीक्षा में 2 अन्य छात्रों से परीक्षा पुरी करवाई गयी। 
बहरहाल गलती समाने होने के बाद भी प्रशासन को जवाब की ललासा, जब गलती समाने ही दिखाई दे रही है तो निलम्बन की प्रकिया में 3 दिवस का लचीलापन क्यूं। नोटिस के स्थान पर निलंबन किया होता तो जवाब के लचीले पन की लापरवाही नही होगी। 
3 दिन में तो बहुत कुछ हेराफैरी हो जायेगी यह सब जानते हुये भी अंजान बने बैठा है प्रशासन। 

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ समाचार के साथ

ख़बर पर आपकी राय

Famous Posts

Sports