9 वर्ष की तुतलाती बच्ची के साथ दुष्कृत्य करने वाले आरोपी को उम्र केद की सज़ा। बिन मां की बेटी के साथ दुराचारी ने दो बार किया दुष्कृत्य।





इंदौर - 

जिला अभियोजन अधिकारी संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि 11/03/2022 को माननीय न्यायालय- सुश्री सुमन श्रीवास्तनव, पंचम अपर सत्र न्या याधीश एवं विशेष न्यांयाधीश (पॉक्सो एक्ट), जिला इंदौर के न्यासयालय में थाना रावजी बाजार अपराध क्रमांक 348/19 जिला इंदौर के विशेष सत्र प्रकरण क्रमांक 26/2020, में निर्णय पारित करते हुए आरोपी रविचंद्र उम्र 28 वर्ष निवासी- इंदौर को दोषी पाते हुए धारा 376(क,ख) भा.दं.सं. एवं 5(एम)/6 पॉक्सों एक्टभ में  आजीवन कारावास के दण्ड  से दण्डित किया गया।

प्रकरण में अभियोजन कि ओर से पैरवी विशेष लोक अभियोजक श्रीमती प्रीति अग्रवाल द्वारा की गई।
प्रकरण में अभियोजन के सभी साक्षी पक्षद्रोही होने के बाद भी मात्र पीडिता एवं विशेषज्ञ साक्षी के आधार पर अभियोजन द्वारा सशक्त् तरीके से पैरवी कर न्यानयालय द्वारा आरोपी को दोषीपाते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई । 


अभियोजन कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि पीडिता जिसकी आयु 09 वर्ष थी, वह तुतलाती थी, उसकी मॉ का स्वसर्गवास होने से वह पिता के साथ निवास करती थी । 
दिनांक 23/11/2019 को पीडिता अपने पिता के साथ चाची के घर आई थी पीडिता ने उन्‍हें बताया कि दिनांक 16/11/2019 को शाम को लगभग  05 - 06 बजे वह अपने पिता के साथ सुलभ कॉम्लेक्स् के पास बैठी हुई थी । वह अकेली टॉयलेट करने अंदर गई तो आरोपी रविचंद्र अंदर आ गया और उसके साथ गलत काम करने लगा वह चिल्लाई तो उसने उसे वहॉ से जाने दिया और उसने बताया कि इससे पहले भी आरोपी ने 06 माह पूर्व शाम 6 बजे के लगभग जब वह सुलभ काम्लेक्स में टायलेट करने गई थी तब भी उसने उसे पकड़ लिया और उसके कपडे उतार कर उसके साथ गलत काम किया जब वह चिल्लालई तो उसने छोड दिया और बोला कि इस बारे में किसी को मत बताना नहीं तो जान से मार दूंगा।
 संपूर्ण विवेचना उपरांत आरोपी के विरूद्ध अभियोग पत्र न्यारयालय में पेश किया गया । जिस पर से आरोपी को उक्तण सजा सुनाई गई

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ समाचार के साथ

ख़बर पर आपकी राय

Famous Posts

Sports