सट्टे बाजार के बाजारुओ में आपसी द्वंद और अंतर्विरोध- छोटे खयवाल से बडे खयवाल के नाम पुलिस तक ओपन हैं फिर भी कार्यवाही में कमजोर पुलिस।




शहर में सट्टा व्यापार अपने काले कारनामों में इतना अधिक फैला हुआ है जिसकी समान्य व्यक्ति कल्पना भी नहीं कर सकता हैं। फिर हर दिन बहुत से लोग इस सट्टा बाजार का गुलाम हो कर अपनी सम्पत्ति को गवां देते हैं।खयवाल इस खेल में दोनों तरफ से सुरक्षित होता हैं। सट्टा लगाने वाला चाहे जीते या हारे खयवाल को कोई परेशानी नहीं आती हैं। 
जिले और शहर में ऐसे खयवाल राजनैतिक शरण ले कर पुलिस की गौद में बैठे बैठे लोगों को लूट रहे हैं। 

बीते दिनों सट्टा बाजार के इन फ़ालतू बाजारु लोगों में मनमुटाव के चलते कई सारी बातें सामने आयी थी। जिसमें एक ग्रुप से दूसरे ग्रुप की शिकायत कर कुछ खयवालों को पुलिस से द्वारा उठवाय गया था। मगर वो कहानी 2 से 4 घंटे में पुलिस ने खत्म कर दी। 


उस वक्त सट्टा बाजारुओ के व्हट्स अप ग्रुप में एक मेसज़ चला जिसमें बहुत से खयवालों के नाम हैं जो की पुलिस तक भी पहुंच चुके है मगर कार्यवाही करने में नाकाम पुलिस ने किसी भी खयवाल को टच तक नही किया। इस पर बुद्धिजीवी कहते है कि, राजनैतिक रूप से सेटिंग है और सट्टे बाजार की माया ने खाकी के हाथ को बांध रखा हैं। नीचे लेवल के कुछ नाम तो हम आपको पहले भी बता चुके हैं। और पुलिस को भी। जो उस वक्त शहर में नाम चले थे वो 

जैसे: दिलीप गेट मेघनगर नाका पर लच्छू, आयोध्या बस्ती में राजा, छतरी चोक पर पंकज, राजगढ़ नाके पर अर्जुन, बाबेल चौराहे पर हितिया (हितु) और कमु सेठ, तेलीवाड़े में ललित, पानी की टंकी पर सोनू, बनिया गली में विक्की और गोलू,।
ऐसे ही अज्जू, छोटु चिलम, अशीष, आरिफ, और खलनायक, 
खलनायक रजला में बाजार चलता हैं। कुछ का काम गोला और काला पीपल जेसे गांव में भी चल रहा हैं। और भी गांव है जहा शहर के खयवाल सट्टा बाजार चलाते है।
 
हालांकि, ये सभी नाम पुलिस के पास है मगर पुलिस मजबुर और स्वयं को असहाय बता कर खुद ही पूछती है कि कैसे पकड़े इनको। फिर शहर के खयवालो में भी गुटबाजी जोरदार चलती हैं। 
उसी के साथ दादागिरी भी। खयवालो की गुटबाजी के खेल का खुलासा भी खुल के सामने आयेगा। 

बहरहाल शहर में इनसे भी बडे सट्टे बाज़ हैं जो अंको के सट्टे के साथ क्रिकेट की बुकी भी करते है और शहर में भ्रमण कर चौराहे-चौराहे बैठते हैं। 

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ समाचार के साथ

ख़बर पर आपकी राय

Famous Posts

Sports